Josh Malihabadi's Photo'

जोश मलीहाबादी

1898 - 1982 | इस्लामाबाद, पाकिस्तान

सबसे गर्म मिज़ाज प्रगतिशील शायर जिन्हें शायर-ए-इंकि़लाब (क्रांति-कवि) कहा जाता है

सबसे गर्म मिज़ाज प्रगतिशील शायर जिन्हें शायर-ए-इंकि़लाब (क्रांति-कवि) कहा जाता है

उपनाम : 'जोश'

मूल नाम : शब्बीर अहमद हसन ख़ाँ

जन्म : 05 Dec 1898 | मलीहाबाद, उत्तर प्रदेश

निधन : 22 Feb 1982 | इस्लामाबाद, पाकिस्तान

Relatives : अज़ीज़ लखनवी (गुरु), गोया फ़क़ीर मोहम्मद (दादा), सफ़िया शमीम (Nephew)

LCCN :n82098884

दिल की चोटों ने कभी चैन से रहने दिया

जब चली सर्द हवा मैं ने तुझे याद किया

जोश मलीहाबादी, शब्बीर अहमद हसन ख़ाँ

1898-1992

बीसवीं सदी के प्रमुख परंपरा-विरोधी, ग़ज़ल-विरोधी और प्रगतिशील विचारों वाले शाइरों में शामिल। मलीहाबाद (उत्तर प्रदेश) के शाइरों के घराने में आँखें खोलीं। 13-14 साल की म्र से शाइरी का आग़ाज़। आज़ादी की लड़ाई के नेताओं से गहरे संबंध। आज़ादी के बा पाकिस्तान चले गए और वहीं देहांत हुआ।

संबंधित टैग