Khursheed Akbar's Photo'

खुर्शीद अकबर

1959 | पटना, भारत

उत्तर आधुनिक उर्दू शायर मुक्तिवादी और परिवर्तनधर्मी विचार-सृजन के लिये प्रख्यात

उत्तर आधुनिक उर्दू शायर मुक्तिवादी और परिवर्तनधर्मी विचार-सृजन के लिये प्रख्यात

खुर्शीद अकबर

ग़ज़ल 32

नज़्म 19

अशआर 38

हम भी तिरे बेटे हैं ज़रा देख हमें भी

ख़ाक-ए-वतन तुझ से शिकायत नहीं करते

दर्द का ज़ाइक़ा बताऊँ क्या

ये इलाक़ा ज़बाँ से बाहर है

  • शेयर कीजिए

साहिल से सुना करते हैं लहरों की कहानी

ये ठहरे हुए लोग बग़ावत नहीं करते

चेहरे हैं कि सौ रंग में होते हैं नुमायाँ

आईने मगर कोई सियासत नहीं करते

यहाँ तो रस्म है ज़िंदों को दफ़्न करने की

किसी भी क़ब्र से मुर्दा कहाँ निकलता है

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 18

वीडियो 3

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए
Khurshid Akbar in Jashne Urdu Mushaira at Patna

खुर्शीद अकबर

Khurshid Akbar in Jashne Urdu Mushaira at Patna urdu youthforum  urdu youthforum

खुर्शीद अकबर

लहू में डूबता मंज़र ख़िलाफ़ रहता है

खुर्शीद अकबर

संबंधित शायर

"पटना" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए