ग़ज़ल 20

नज़्म 3

 

शेर 1

उस ने फेंका मुझ पे पत्थर और मैं पानी की तरह

और ऊँचा और ऊँचा और ऊँचा हो गया

  • शेयर कीजिए
 

हिंदी ग़ज़ल 15

संबंधित शायर

  • कुमार विश्वास कुमार विश्वास शिष्य

"ग़ाज़ियाबाद" के और शायर

  • मोनी गोपाल तपिश मोनी गोपाल तपिश
  • तरुणा मिश्रा तरुणा मिश्रा
  • राज कौशिक राज कौशिक
  • गोविन्द गुलशन गोविन्द गुलशन
  • ख़ुशबू सक्सेना ख़ुशबू सक्सेना
  • ज़की तारिक़ ज़की तारिक़