Saail Dehlvi's Photo'

साइल देहलवी

1864 - 1945 | दिल्ली, भारत

साइल देहलवी

ग़ज़ल 13

शेर 13

आह करता हूँ तो आते हैं पसीने उन को

नाला करता हूँ तो रातों को वो डर जाते हैं

  • शेयर कीजिए

झड़ी ऐसी लगा दी है मिरे अश्कों की बारिश ने

दबा रक्खा है भादों को भुला रक्खा है सावन को

हमेशा ख़ून-ए-दिल रोया हूँ मैं लेकिन सलीक़े से

क़तरा आस्तीं पर है धब्बा जैब दामन पर

  • शेयर कीजिए

मोहतसिब तस्बीह के दानों पे ये गिनता रहा

किन ने पी किन ने पी किन किन के आगे जाम था

  • शेयर कीजिए

ख़त-ए-शौक़ को पढ़ के क़ासिद से बोले

ये है कौन दीवाना ख़त लिखने वाला

पुस्तकें 1

Sail Dehlvi

 

 

 

"दिल्ली" के और शायर

  • फ़रहत एहसास फ़रहत एहसास
  • शैख़  ज़हूरूद्दीन हातिम शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम
  • शाह नसीर शाह नसीर
  • हसरत मोहानी हसरत मोहानी
  • राजेन्द्र मनचंदा बानी राजेन्द्र मनचंदा बानी
  • अनीसुर्रहमान अनीसुर्रहमान
  • आबरू शाह मुबारक आबरू शाह मुबारक
  • ताबाँ अब्दुल हई ताबाँ अब्दुल हई
  • मोहम्मद रफ़ी सौदा मोहम्मद रफ़ी सौदा
  • बेख़ुद देहलवी बेख़ुद देहलवी