यगाना चंगेज़ी के 10 बेहतरीन शेर

प्रमुख पूर्वाधुनिक शायर जिन्होंने नई ग़ज़ल के लिए राह बनाई/मिर्ज़ा ग़ालिब के विरोध के लिए प्रसिद्ध

गुनाह गिन के मैं क्यूँ अपने दिल को छोटा करूँ

सुना है तेरे करम का कोई हिसाब नहीं

यगाना चंगेज़ी

दर्द हो तो दवा भी मुमकिन है

वहम की क्या दवा करे कोई

यगाना चंगेज़ी

मौत माँगी थी ख़ुदाई तो नहीं माँगी थी

ले दुआ कर चुके अब तर्क-ए-दुआ करते हैं

यगाना चंगेज़ी

ख़ुदी का नश्शा चढ़ा आप में रहा गया

ख़ुदा बने थे 'यगाना' मगर बना गया

यगाना चंगेज़ी

सब तिरे सिवा काफ़िर आख़िर इस का मतलब क्या

सर फिरा दे इंसाँ का ऐसा ख़ब्त-ए-मज़हब क्या

यगाना चंगेज़ी

पहाड़ काटने वाले ज़मीं से हार गए

इसी ज़मीन में दरिया समाए हैं क्या क्या

यगाना चंगेज़ी

दीन के हुए मोहसिन हम और दुनिया के

बुतों से हम मिले और हमें ख़ुदा मिला

यगाना चंगेज़ी

मुझे नाख़ुदा आख़िर किसी को मुँह दिखाना है

बहाना कर के तन्हा पार उतर जाना नहीं आता

यगाना चंगेज़ी

दुनिया से 'यास' जाने को जी चाहता नहीं

अल्लाह रे हुस्न गुलशन-ए-ना-पाएदार का

यगाना चंगेज़ी

'यास' इस चर्ख़-ए-ज़माना-साज़ का क्या ए'तिबार

मेहरबाँ है आज कल ना-मेहरबाँ हो जाएगा

यगाना चंगेज़ी