Rahi Masoom Raza's Photo'

राही मासूम रज़ा

1927 - 1992 | अलीगढ़, भारत

अग्रणी हिंदी उपन्यासकार और फ़िल्म संवाद-लेखक , टी. वी. सीरियल ' महाभारत ' के संवादों के लिए प्रसिद्ध

अग्रणी हिंदी उपन्यासकार और फ़िल्म संवाद-लेखक , टी. वी. सीरियल ' महाभारत ' के संवादों के लिए प्रसिद्ध

राही मासूम रज़ा

अशआर 5

इस सफ़र में नींद ऐसी खो गई

हम सोए रात थक कर सो गई

हाँ उन्हीं लोगों से दुनिया में शिकायत है हमें

हाँ वही लोग जो अक्सर हमें याद आए हैं

ये चराग़ जैसे लम्हे कहीं राएगाँ जाएँ

कोई ख़्वाब देख डालो कोई इंक़िलाब लाओ

  • शेयर कीजिए

दिल की खेती सूख रही है कैसी ये बरसात हुई

ख़्वाबों के बादल आते हैं लेकिन आग बरसती है

ज़िंदगी ढूँढ ले तू भी किसी दीवाने को

उस के गेसू तो मिरे प्यार ने सुलझाए हैं

ग़ज़ल 11

नज़्म 16

पुस्तकें 15

चित्र शायरी 9

 

वीडियो 5

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
Gham-e-zindgi Se Guzar Gaye

आबिदा परवीन

Salman Alvi live mehfil-Ajnabi Sheher Ke Ajnabi Raste

सलमान अल्वी

Zindagi Ko Sanwaarna Hoga

यसुदास

हम तो हैं परदेस में देस में निकला होगा चाँद

आबिदा परवीन

हम तो हैं परदेस में देस में निकला होगा चाँद

जगजीत सिंह

संबंधित लेखक

"अलीगढ़" के और लेखक

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए