noImage

अनवर आलम सिद्दीक़ी

1928 | रावलपिंडी, पाकिस्तान

शेर 1

बाक़ी अभी है कर्ब का इक और मरहला

महसूस जो किया है उसे सोचना भी है

  • शेयर कीजिए
 

"रावलपिंडी" के और शायर

  • अख़्तर होशियारपुरी अख़्तर होशियारपुरी
  • साबिर ज़फ़र साबिर ज़फ़र
  • जलील ’आली’ जलील ’आली’
  • बाक़ी सिद्दीक़ी बाक़ी सिद्दीक़ी
  • शुमामा उफ़ुक़ शुमामा उफ़ुक़
  • मंज़ूर आरिफ़ मंज़ूर आरिफ़
  • अफ़ज़ल मिनहास अफ़ज़ल मिनहास
  • नवेद फ़िदा सत्ती नवेद फ़िदा सत्ती
  • यूसुफ़ ज़फ़र यूसुफ़ ज़फ़र
  • मुसतफ़ा राही मुसतफ़ा राही