noImage

चूँचाल सियालकोटी

सियालकोट, पाकिस्तान

साठ के दशक में उभरने वाले अहम मज़ाहिया (हास्य) शायर

साठ के दशक में उभरने वाले अहम मज़ाहिया (हास्य) शायर

शेर 1

नोट दिखला कर उसे हम खेंच लाए अपने हाँ

हम कहते थे कि पैसा क़ाज़ी-उल-हाजात है

  • शेयर कीजिए
 

हास्य 1

 

"सियालकोट" के और शायर

  • शाहीन अब्बास शाहीन अब्बास
  • रशीद क़ैसरानी रशीद क़ैसरानी
  • मोहम्मद अहमद मोहम्मद अहमद
  • नूर बिजनौरी नूर बिजनौरी
  • मंज़ूर आरिफ़ मंज़ूर आरिफ़
  • तौसीफ़ तबस्सुम तौसीफ़ तबस्सुम
  • हमीदा शाहीन हमीदा शाहीन
  • सय्यद अारिफ़ सय्यद अारिफ़
  • ख़ावर एजाज़ ख़ावर एजाज़
  • तैमूर हसन तैमूर हसन