Lal Chand Falak's Photo'

लाल चन्द फ़लक

1887 - 1967 | दिल्ली, भारत

लाल चन्द फ़लक

नज़्म 2

 

अशआर 4

दिल से निकलेगी मर कर भी वतन की उल्फ़त

मेरी मिट्टी से भी ख़ुशबू-ए-वफ़ा आएगी

  • शेयर कीजिए

भारत के सपूतो हिम्मत दिखाए जाओ

दुनिया के दिल पे अपना सिक्का बिठाए जाओ

  • शेयर कीजिए

हिंदूओ मुसलमाँ आपस में इन दिनों तुम

नफ़रत घटाए जाओ उल्फ़त बढ़ाए जाओ

  • शेयर कीजिए

तन-मन मिटाए जाओ तुम नाम-ए-क़ौमीयत पर

राह-ए-वतन पर अपनी जानें लड़ाए जाओ

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 23

चित्र शायरी 2

 

"दिल्ली" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए