Mohammad Ahmad Ramz's Photo'

मोहम्मद अहमद रम्ज़

1932 | कानपुर, भारत

नई ग़ज़ल के प्रतिष्ठित शायर

नई ग़ज़ल के प्रतिष्ठित शायर

ग़ज़ल 33

शेर 11

तुम गए हो तुम मुझ को ज़रा सँभलने दो

अभी तो नश्शा सा आँखों में इंतिज़ार का है

  • शेयर कीजिए

हर्फ़ को लफ़्ज़ कर लफ़्ज़ को इज़हार दे

कोई तस्वीर मुकम्मल बना उस के लिए

अब के वस्ल का मौसम यूँही बेचैनी में बीत गया

उस के होंटों पर चाहत का फूल खिला भी कितनी देर

"कानपुर" के और शायर

  • अबुल हसनात हक़्क़ी अबुल हसनात हक़्क़ी
  • असलम महमूद असलम महमूद
  • शोएब निज़ाम शोएब निज़ाम
  • हसन अज़ीज़ हसन अज़ीज़
  • फ़ना निज़ामी कानपुरी फ़ना निज़ामी कानपुरी
  • नामी अंसारी नामी अंसारी
  • ज़ेब ग़ौरी ज़ेब ग़ौरी
  • नाज़िर सिद्दीक़ी नाज़िर सिद्दीक़ी
  • इशरत ज़फ़र इशरत ज़फ़र
  • क़ौसर जायसी क़ौसर जायसी