noImage

मोहम्मद अली तिशना

- 1869/70 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 1

 

नज़्म 1

 

शेर 1

आँख पड़ती है कहीं पाँव कहीं पड़ता है

सब की है तुम को ख़बर अपनी ख़बर कुछ भी नहीं

  • शेयर कीजिए
 

"दिल्ली" के और शायर

  • फ़रहत एहसास फ़रहत एहसास
  • शैख़  ज़हूरूद्दीन हातिम शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम
  • शाह नसीर शाह नसीर
  • दाग़ देहलवी दाग़ देहलवी
  • इंशा अल्लाह ख़ान इंशा इंशा अल्लाह ख़ान इंशा
  • बेख़ुद देहलवी बेख़ुद देहलवी
  • राजेन्द्र मनचंदा बानी राजेन्द्र मनचंदा बानी
  • आबरू शाह मुबारक आबरू शाह मुबारक
  • ताबाँ अब्दुल हई ताबाँ अब्दुल हई
  • हसरत मोहानी हसरत मोहानी