Safi Aurangabadi's Photo'

सफ़ी औरंगाबादी

1893 - 1954 | हैदराबाद, भारत

सफ़ी औरंगाबादी

ग़ज़ल 40

अशआर 2

हमें माशूक़ को अपना बनाना तक नहीं आता

बनाने वाले आईना बना लेते हैं पत्थर से

  • शेयर कीजिए

ख़ूबसूरत है वही जिस पे ज़माना रीझे

यूँ तो हर एक को है अपनी ही सूरत अच्छी

 

पुस्तकें 6

 

"हैदराबाद" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए