noImage

शाहिद सिद्दीक़ी

1911 - 1962 | हैदराबाद, भारत

शाहिद सिद्दीक़ी

ग़ज़ल 20

शेर 8

तमाम उम्र तिरा इंतिज़ार कर लेंगे

मगर ये रंज रहेगा कि ज़िंदगी कम है

  • शेयर कीजिए

एक पल के रुकने से दूर हो गई मंज़िल

सिर्फ़ हम नहीं चलते रास्ते भी चलते हैं

  • शेयर कीजिए

उरूज-ए-माह को इंसाँ समझ गया लेकिन

हनूज़ अज़्मत-ए-इंसाँ से आगही कम है

  • शेयर कीजिए

साथ देंगी ये दम तोड़ती हुई शमएँ

नए चराग़ जलाओ कि रौशनी कम है

  • शेयर कीजिए

क़रीब दूर से आती है आप की आवाज़

कभी बहुत है ग़म-ए-जुस्तुजू कभी कम है

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 8

Charagh-e-Manzil

 

1960

Charagh-e-Manzil

 

1960

Sanam Kadah

 

1973

Saz-e-Bekhudi

 

1965

Sheesha-o-Teesha

 

1964

Shikan Dar Shikan

 

1997

शीशा-ओ-तीशा

 

1964

 

वीडियो 4

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

शाहिद सिद्दीक़ी

शाहिद सिद्दीक़ी

शाहिद सिद्दीक़ी

मिरी आरज़ू नए रूप भर के हज़ार फूल खिलाएगी

शाहिद सिद्दीक़ी

"हैदराबाद" के और शायर

  • अमीर मीनाई अमीर मीनाई
  • जलील मानिकपूरी जलील मानिकपूरी
  • शाज़ तमकनत शाज़ तमकनत
  • ग़ौस ख़ाह मख़ाह  हैदराबादी ग़ौस ख़ाह मख़ाह हैदराबादी
  • वली उज़लत वली उज़लत
  • मुसहफ़ इक़बाल तौसिफ़ी मुसहफ़ इक़बाल तौसिफ़ी
  • शफ़ीक़ फातिमा शेरा शफ़ीक़ फातिमा शेरा
  • ख़्वाजा शौक़ ख़्वाजा शौक़
  • राशिद आज़र राशिद आज़र
  • रियासत अली ताज रियासत अली ताज