Mansoor Usmani's Photo'

मंसूर उस्मानी

1954 | मुरादाबाद, भारत

ग़ज़ल 15

शेर 15

आँखों से मोहब्बत के इशारे निकल आए

बरसात के मौसम में सितारे निकल आए

मुझ से दिल्ली की नहीं दिल की कहानी सुनिए

शहर तो ये भी कई बार लुटा है मुझ में

जहाँ जहाँ कोई उर्दू ज़बान बोलता है

वहीं वहीं मिरा हिन्दोस्तान बोलता है

  • शेयर कीजिए

ई-पुस्तक 1

कश्मकश

 

2007

 

संबंधित शायर

  • गौहर उस्मानी गौहर उस्मानी पिता

"मुरादाबाद" के और शायर

  • सरफ़राज़ ख़ालिद सरफ़राज़ ख़ालिद
  • फ़िगार उन्नावी फ़िगार उन्नावी
  • पॉपुलर मेरठी पॉपुलर मेरठी
  • ज़फ़र इक़बाल ज़फ़र ज़फ़र इक़बाल ज़फ़र
  • अज़्म शाकरी अज़्म शाकरी
  • ऐनुद्दीन आज़िम ऐनुद्दीन आज़िम
  • रश्मि सबा रश्मि सबा
  • अरशद जमाल सारिम अरशद जमाल सारिम
  • दिवाकर राही दिवाकर राही
  • शफ़क़ सुपुरी शफ़क़ सुपुरी