Sher Singh Naaz Dehlvi's Photo'

शेर सिंह नाज़ देहलवी

1898 - 1962 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 14

शेर 2

चूम कर आया है ये दस्त-ए-हिनाई आप का

क्यूँ रक्खूँ मैं कलेजे से लगा कर तीर को

  • शेयर कीजिए

निगह-ए-लुत्फ़ में है उक़्दा-कुशाई मुज़्मर

काम बिगड़े हुए बंदों के सँवर जाते हैं

 

पुस्तकें 2

Khadang-e-Naaz

 

 

Khadang-e-Naz

 

 

 

ऑडियो 7

क्या ख़बर थी कोई रुस्वा-ए-जहाँ हो जाएगा

ज़ुल्फ़-ए-जानाँ पे तबीअत मिरी लहराई है

ज़िंदगी नाम है जिस चीज़ का क्या होती है

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • बर्क़ देहलवी बर्क़ देहलवी गुरु

"दिल्ली" के और शायर

  • मिर्ज़ा ग़ालिब मिर्ज़ा ग़ालिब
  • शैख़  ज़हूरूद्दीन हातिम शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम
  • शाह नसीर शाह नसीर
  • हसरत मोहानी हसरत मोहानी
  • फ़रहत एहसास फ़रहत एहसास
  • दाग़ देहलवी दाग़ देहलवी
  • आबरू शाह मुबारक आबरू शाह मुबारक
  • ख़्वाजा मीर दर्द ख़्वाजा मीर दर्द
  • मोमिन ख़ाँ मोमिन मोमिन ख़ाँ मोमिन
  • बहादुर शाह ज़फ़र बहादुर शाह ज़फ़र