Wamiq Jaunpuri's Photo'

वामिक़ जौनपुरी

1909 - 1998 | जौनपुर, भारत

प्रमुख प्रगतिशील शायर, अपनी नज़्म ‘भूखा बंगाल’ के लिए मशहूर

प्रमुख प्रगतिशील शायर, अपनी नज़्म ‘भूखा बंगाल’ के लिए मशहूर

ग़ज़ल 34

नज़्म 10

शेर 39

मोहब्बत की सज़ा तर्क-ए-मोहब्बत

मोहब्बत का यही इनआम भी है

ज़बाँ तक जो आए वो मोहब्बत और होती है

फ़साना और होता है हक़ीक़त और होती है

रात भी मुरझा चली चाँद भी कुम्हला गया

फिर भी तिरा इंतिज़ार देखिए कब तक रहे

पुस्तकें 10

गुफ़तनी ना गुफ़तनी

 

1993

Jaras

 

1950

Makhdoom Ke Sau Sher

 

 

Safar-e-Natamam

 

1990

Shab-e-Charag

 

1978

Wamiq Jaunpuri : Shakhs Aur Shair

 

1991

Wamiq Jaunpuri: Shakhsiyat Aur Shairi

 

2010

Shumara Number-001,002

1954

Shumara Number-003

1954

Shumara Number-004

1954

 

ऑडियो 32

अभी तो हौसला-ए-कारोबार बाक़ी है

क़िर्तास पे नक़्शे हमें क्या क्या नज़र आए

जीने का लुत्फ़ कुछ तो उठाओ नशे में आओ

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • मख़दूम मुहिउद्दीन मख़दूम मुहिउद्दीन समकालीन
  • असरार-उल-हक़ मजाज़ असरार-उल-हक़ मजाज़ समकालीन

"जौनपुर" के और शायर

  • हफ़ीज़ जौनपुरी हफ़ीज़ जौनपुरी
  • असग़र मेहदी होश असग़र मेहदी होश
  • निर्मल नदीम निर्मल नदीम
  • रज़ा जौनपुरी रज़ा जौनपुरी
  • अख़लाक़ बन्दवी अख़लाक़ बन्दवी
  • फ़ैज़ राहील ख़ान फ़ैज़ राहील ख़ान
  • शौकत परदेसी शौकत परदेसी
  • शफ़ीक़ जौनपुरी शफ़ीक़ जौनपुरी
  • इबरत मछलीशहरी इबरत मछलीशहरी
  • शिफ़ा कजगावन्वी शिफ़ा कजगावन्वी