शायरी : व्याख्या