Khalid Mahmood's Photo'

ख़ालिद महमूद

1948 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 18

शेर 2

बच्चे मेरी उँगली थामे धीरे धीरे चलते थे

फिर वो आगे दौड़ गए मैं तन्हा पीछे छूट गया

शायद कि मर गया मिरे अंदर का आदमी

आँखें दिखा रहा है बराबर का आदमी

 

ई-पुस्तक 21

Adab Aur Sahafati Adab

 

2012

Adab Ki Tabeer

 

1999

Dil Ka Kya Rang Karun

 

1971

Fankaran-e-Bihar

Volume-001

2016

Samandar Aashna

 

1982

Shaguftagi Dil Ki

Khake Aur Inshaye

2012

Sher-e-Chiragh

 

2001

Sher-e-Zameen

 

2018

Tafhim Wa Tabir

 

2017

Urdu Adab Mein Tanz-o-Mizah Ki Riwayat

 

2005

ऑडियो 8

आँखों में धूप दिल में हरारत लहू की थी

झपटते हैं झपटने के लिए परवाज़ करते हैं

नहीं है अगर उन में बारिश हवा

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • ख़ालिद मुबश्शिर ख़ालिद मुबश्शिर शिष्य
  • मुज़फ़्फ़र हनफ़ी मुज़फ़्फ़र हनफ़ी गुरु

"दिल्ली" के और शायर

  • मुज़फ़्फ़र अबदाली मुज़फ़्फ़र अबदाली
  • असरार जामई असरार जामई
  • राशिद जमाल फ़ारूक़ी राशिद जमाल फ़ारूक़ी
  • नश्तर अमरोहवी नश्तर अमरोहवी
  • नियाज़ हैदर नियाज़ हैदर
  • कमाल अहमद सिद्दीक़ी कमाल अहमद सिद्दीक़ी
  • नज़्मी सिकंदराबादी नज़्मी सिकंदराबादी
  • मीर शम्सुद्दीन फ़क़ीर मीर शम्सुद्दीन फ़क़ीर
  • अबीर अबुज़री अबीर अबुज़री
  • ज़फ़र मुरादाबादी ज़फ़र मुरादाबादी