Mohammad Yusuf Papa's Photo'

मोहम्मद यूसुफ़ पापा

1930 | दिल्ली, भारत

प्रतिष्ठित हास्य-व्यंग शायर

प्रतिष्ठित हास्य-व्यंग शायर

मोहम्मद यूसुफ़ पापा

नज़्म 12

अशआर 13

दुश्मनों की दुश्मनी मेरे लिए आसान थी

ख़र्च आया दोस्तों की मेज़बानी में बहुत

  • शेयर कीजिए

जब भी वालिद की जफ़ा याद आई

अपने दादा की ख़ता याद आई

  • शेयर कीजिए

यहाँ जितने हैं अपने बाप के हैं

तुम्हारे बाप का कोई नहीं है

  • शेयर कीजिए

दूसरी ने जो सँभाली चप्पल

पहली बीवी की वफ़ा याद आई

  • शेयर कीजिए

जल गया कौन मेरे हँसने पर

''ये धुआँ सा कहाँ से उठता है''

  • शेयर कीजिए

हास्य 11

पुस्तकें 6

 

"दिल्ली" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

बोलिए