noImage

मुग़ल फ़ारूक़ परवाज़

दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 1

 

शेर 1

ये और बात कि उन को यक़ीं नहीं आया

कोई बात तो बरसों में हम ने की यारो

 

पुस्तकें 3

दहलीज़

शुमारा नम्बर-002

2012

दहलीज़

शुमारा नम्बर-001

2011

दहलीज़

शुमारा नम्बर-003,004

 

 

"दिल्ली" के और शायर

  • इंशा अल्लाह ख़ान इंशा इंशा अल्लाह ख़ान इंशा
  • आबरू शाह मुबारक आबरू शाह मुबारक
  • शाह नसीर शाह नसीर
  • शेख़ इब्राहीम ज़ौक़ शेख़ इब्राहीम ज़ौक़
  • ताबाँ अब्दुल हई ताबाँ अब्दुल हई
  • मोमिन ख़ाँ मोमिन मोमिन ख़ाँ मोमिन