Shahid Mahuli's Photo'

शाहिद माहुली

1943 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 18

नज़्म 4

 

शेर 3

रंग बे-रंग हुआ डूब गईं आवाज़ें

रेत ही रेत है अब लाश उठाई जाए

  • शेयर कीजिए

फैला हुआ है जिस्म में तन्हाइयों का ज़हर

रग रग में जैसे सारी उदासी उतर गई

  • शेयर कीजिए

ख़ूँ का सैलाब था जो सर से अभी गुज़रा है

बाम-ओ-दर अब भी सिसकते हैं मगर घर चुप हैं

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 100

दाग़ देहलवी

 

2001

Faiz Ahmad Faiz

Aks Aur jehten

1987

फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

अक्स और जेहतें

2011

ग़ालिब और बनारस

 

2010

ग़ालिब और कलकत्ता

 

2010

जोश मलीहाबादी

फ़िक्र-ओ-फ़न

2011

कहीं कुछ नहीं होता

 

2003

Kaifi Aazmi Aks Aur Jehtain

 

1992

मंज़र पस मंज़र

 

1977

Manzar Pas-e-Manzar

 

1977

"दिल्ली" के और शायर

  • अशहर हाशमी अशहर हाशमी
  • शीस मोहम्मद इस्माईल आज़मी शीस मोहम्मद इस्माईल आज़मी
  • ज़फ़र अनवर ज़फ़र अनवर
  • मुग़ल फ़ारूक़ परवाज़ मुग़ल फ़ारूक़ परवाज़
  • सरफ़राज़ ख़ालिद सरफ़राज़ ख़ालिद
  • अज़हर गौरी अज़हर गौरी
  • आज़िम कोहली आज़िम कोहली
  • मोहम्मद अली तिशना मोहम्मद अली तिशना
  • चन्द्रभान ख़याल चन्द्रभान ख़याल
  • वक़ार मानवी वक़ार मानवी