Jaun Eliya's Photo'

जौन एलिया

1931 - 2002 | कराची, पाकिस्तान

पाकिस्तान के अग्रणी आधुनिक शायरों में से एक, अपने अपारम्परिक अंदाज़ के लिए मशहूर।

पाकिस्तान के अग्रणी आधुनिक शायरों में से एक, अपने अपारम्परिक अंदाज़ के लिए मशहूर।

मैं भी बहुत अजीब हूँ इतना अजीब हूँ कि बस

मैं ने हर बार तुझ से मिलते वक़्त

दिल-ए-बर्बाद को आबाद किया है मैं ने

सीना दहक रहा हो तो क्या चुप रहे कोई

'जौन' दुनिया की चाकरी कर के

गाहे गाहे बस अब यही हो क्या

ज़ब्त कर के हँसी को भूल गया

जो हुआ 'जौन' वो हुआ भी नहीं

बे-क़रारी सी बे-क़रारी है

क्या ये आफ़त नहीं अज़ाब नहीं

और तो क्या था बेचने के लिए

ज़िंदगी एक फ़न है लम्हों को

किस लिए देखती हो आईना

मुझे अब तुम से डर लगने लगा है

और क्या चाहती है गर्दिश-ए-अय्याम कि हम