Anwar Masood's Photo'

उपमहाद्वीप में हास्य-व्यंग्य के प्रमुख शायर

उपमहाद्वीप में हास्य-व्यंग्य के प्रमुख शायर

अनवर मसूद

ग़ज़ल 26

नज़्म 3

 

अशआर 33

इस वक़्त वहाँ कौन धुआँ देखने जाए

अख़बार में पढ़ लेंगे कहाँ आग लगी थी

दिल सुलगता है तिरे सर्द रवय्ये से मिरा

देख अब बर्फ़ ने क्या आग लगा रक्खी है

पलकों के सितारे भी उड़ा ले गई 'अनवर'

वो दर्द की आँधी की सर-ए-शाम चली थी

  • शेयर कीजिए

उर्दू से हो क्यूँ बेज़ार इंग्लिश से क्यूँ इतना प्यार

छोड़ो भी ये रट्टा यार ट्विंकल ट्विंकल लिटिल स्टार

  • शेयर कीजिए

आसमाँ अपने इरादों में मगन है लेकिन

आदमी अपने ख़यालात लिए फिरता है

हास्य 12

क़ितआ 15

पुस्तकें 4

 

वीडियो 33

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए
At a mushaira

अनवर मसूद

At a mushaira

अनवर मसूद

Birmingham 2014 Mushaira

अनवर मसूद

Canada Urdu Association Mushaira

अनवर मसूद

Copenhagen Mushaira

अनवर मसूद

London Walthamstow Mushaira Part 2

अनवर मसूद

London Walthamstow Mushaira Part I

अनवर मसूद

Mehfil-e-Mushaira

अनवर मसूद

Mizahiya Qitaat

अनवर मसूद

Mushaira in Germany - Part 2

अनवर मसूद

Mushaira in Germany - Part 3

अनवर मसूद

Mushaira in Germany - Part 4

अनवर मसूद

Mushaira in Germany - Part 5

अनवर मसूद

Mushaira in Germany - Part I

अनवर मसूद

Reciting marsiya

अनवर मसूद

Reciting own poetry

अनवर मसूद

अब कहाँ और किसी चीज़ की जा रक्खी है

अनवर मसूद

कब ज़िया-बार तिरा चेहरा-ए-ज़ेबा होगा

अनवर मसूद

कब ज़िया-बार तिरा चेहरा-ए-ज़ेबा होगा

अनवर मसूद

मैं जुर्म-ए-ख़मोशी की सफ़ाई नहीं देता

अनवर मसूद

संबंधित शायर

"इस्लामाबाद" के और शायर

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI