Naiyer Masud's Photo'

Naiyer Masud

1936 - 2017 | Lucknow, India

Prominent short story writer, known for writing fictional narratives of the traditional mores of Lucknowi life and times. Also wtote critical and autobiographical books.

Prominent short story writer, known for writing fictional narratives of the traditional mores of Lucknowi life and times. Also wtote critical and autobiographical books.

Naiyer Masud

Short story 16

Article 1

 

Quote 3

दानिशगाहों में मुश्किल से चार फ़ीसद या तीन फ़ीसद असातिज़ा ऐसे होंगे, जो मुताला फ़रमाते हैं, बाक़ी सब तरक़्क़ी के हिज्जे करते रहते हैं। ऐसे क़हत के आलम में जब ये मालूम होता है कि फ़ुलाँ शख़्स ने किताब पढ़ी है तो किस क़दर मुसर्रत होती है। इस को सही तौर पर बयान करना मुश्किल है।

  • Share this
  • Share this

मुझको नज़र के धोके अस्ली मंज़रों से ज़्यादा अस्ली और वहम हक़ीक़तों से बड़ी हक़ीक़त मालूम होते हैं।

  • Share this
 

Khaka 1

 

BOOKS 32

RELATED Authors

More Authors From "Lucknow"

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

Speak Now