Asar Lakhnavi's Photo'

असर लखनवी

1885 - 1967 | लखनऊ, भारत

लखनऊ स्कूल के आख़िरी ज़माने के शायरों में प्रमुख, विशिष्ट लखनवी शैली के लिए मशहूर, अडिशनल कमिश्नर, शिक्षा मंत्री, गृह मंत्री और कश्मीरी सरकार में कार्यकारी प्रधानमंत्री

लखनऊ स्कूल के आख़िरी ज़माने के शायरों में प्रमुख, विशिष्ट लखनवी शैली के लिए मशहूर, अडिशनल कमिश्नर, शिक्षा मंत्री, गृह मंत्री और कश्मीरी सरकार में कार्यकारी प्रधानमंत्री

ग़ज़ल 21

शेर 21

तुम्हारा हुस्न आराइश तुम्हारी सादगी ज़ेवर

तुम्हें कोई ज़रूरत ही नहीं बनने सँवरने की

  • शेयर कीजिए

इश्क़ से लोग मना करते हैं

जैसे कुछ इख़्तियार है अपना

  • शेयर कीजिए

ये सोचते ही रहे और बहार ख़त्म हुई

कहाँ चमन में नशेमन बने कहाँ बने

i kept contemplating, spring came and went away

where in the garden should I make my nest today

  • शेयर कीजिए

इधर से आज वो गुज़रे तो मुँह फेरे हुए गुज़रे

अब उन से भी हमारी बे-कसी देखी नहीं जाती

  • शेयर कीजिए

भूलने वाले को शायद याद वादा गया

मुझ को देखा मुस्कुराया ख़ुद-ब-ख़ुद शरमा गया

  • शेयर कीजिए

लेख 1

 

पुस्तकें 23

अनीस की मर्सिया निगारी

 

1951

Asar Lakhnavi : Shakhsiyat Aur Fan

 

2011

Asar Lucknowi: Hayat Aur Karname

 

1977

Asaristan

 

 

Baharan

Ma Intikhab-e-Asaristan

1939

Chhan Been

 

1950

Farhang-e-Asar

Part-001

1961

Farhang-e-Asar

Part-003

1992

Farhang-e-Asar

Part-001,002

1961

Farhang-e-Asr

Volume-004

1987

चित्र शायरी 1

इश्क़ से लोग मना करते हैं जैसे कुछ इख़्तियार है अपना

 

ऑडियो 3

दिल गया बे-क़रारियाँ न गईं

नवेद-ए-वस्ल-ए-यार आए न आए

हिजाब-ए-रंग-ओ-बू है और मैं हूँ

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

 

संबंधित शायर

  • अज़ीज़ लखनवी अज़ीज़ लखनवी गुरु

"लखनऊ" के और शायर

  • मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी
  • मीर हसन मीर हसन
  • हैदर अली आतिश हैदर अली आतिश
  • इमदाद अली बहर इमदाद अली बहर
  • इरफ़ान सिद्दीक़ी इरफ़ान सिद्दीक़ी
  • जुरअत क़लंदर बख़्श जुरअत क़लंदर बख़्श
  • अज़ीज़ बानो दाराब  वफ़ा अज़ीज़ बानो दाराब वफ़ा
  • अरशद अली ख़ान क़लक़ अरशद अली ख़ान क़लक़
  • मीर अनीस मीर अनीस
  • यगाना चंगेज़ी यगाना चंगेज़ी