Aziz Qaisi's Photo'

अज़ीज़ क़ैसी

1931 - 1992 | मुंबई, भारत

प्रमुखतम प्रगतीशील शायरों में शामिल / अपनी भावनात्मक तीक्षणता के लिए विख्यात

प्रमुखतम प्रगतीशील शायरों में शामिल / अपनी भावनात्मक तीक्षणता के लिए विख्यात

ग़ज़ल 12

नज़्म 26

शेर 13

इक नवा-ए-रफ़्ता की बाज़गश्त थी 'क़ैसी'

दिल जिसे समझते थे दश्त-ए-बे-सदा निकला

जो ज़ख़्म दोस्तों ने दिए हैं वो छुप तो जाएँ

पर दुश्मनों की सम्त से पत्थर कोई तो आए

तुझे सीने से लगा लूँ तुझे दिल में रख लूँ

दर्द की छाँव में ज़ख़्मों की अमाँ में जा

ई-पुस्तक 6

आईना दर आईना

 

1972

Aaina Dar Aaina

 

1972

दूसरे किनारे तक

 

2013

Gardbab

 

1984

Gard-e-Bad

 

1984

Shumara Number-006

1991

 

ऑडियो 9

अज़ल-अबद

अल्फ़-ए-लैला की आख़िरी सुब्ह

एक मंज़र एक आलम

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

"मुंबई" के और शायर

  • अबुल हसनात हक़्क़ी अबुल हसनात हक़्क़ी
  • वाली आसी वाली आसी
  • ख़ुर्शीद तलब ख़ुर्शीद तलब
  • अख़्तर पयामी अख़्तर पयामी
  • अरशद अब्दुल हमीद अरशद अब्दुल हमीद
  • असलम महमूद असलम महमूद
  • अहमद शनास अहमद शनास
  • अंजुम लुधियानवी अंजुम लुधियानवी
  • फ़रहान सालिम फ़रहान सालिम
  • नज़ीर बाक़री नज़ीर बाक़री