noImage

राज़ रामपुरी

1883 - 1918 | रामपुर, भारत

शेर 1

मिल गई मुझ को तो दुनिया से नजात

क़त्ल कर के आप को क्या मिल गया

  • शेयर कीजिए
 

"रामपुर" के और शायर

  • ताहिर फ़राज़ ताहिर फ़राज़
  • शौक़ असर रामपुरी शौक़ असर रामपुरी
  • उरूज क़ादरी उरूज क़ादरी
  • मोहम्मद यूसुफ़ अली ख़ाँ नाज़िम रामपुरी मोहम्मद यूसुफ़ अली ख़ाँ नाज़िम रामपुरी
  • साक़िब रामपुरी साक़िब रामपुरी
  • सईदा जहाँ मख़्फ़ी सईदा जहाँ मख़्फ़ी
  • सबा अफ़ग़ानी सबा अफ़ग़ानी
  • दौर आफ़रीदी दौर आफ़रीदी
  • माैज रामपुरी माैज रामपुरी
  • सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम