noImage

शैख़ अली बख़्श बीमार

1789 - 1854 | रामपुर, भारत

ग़ज़ल 9

शेर 2

कौन पुरसाँ है हाल-ए-बिस्मिल का

ख़ल्क़ मुँह देखती है क़ातिल का

  • शेयर कीजिए

चशम-दिलबर ने दिल-ए-ज़ार की दिलदारी की

आह बीमार ने बीमार की ग़म-ख़्वारी की

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 1

Deewan-e-Sheikh Ali Bakhs Bimar

 

2003

 

संबंधित शायर

  • निज़ाम रामपुरी निज़ाम रामपुरी शिष्य

"रामपुर" के और शायर

  • निज़ाम रामपुरी निज़ाम रामपुरी
  • अज़हर इनायती अज़हर इनायती
  • शाहिद इश्क़ी शाहिद इश्क़ी
  • शाद आरफ़ी शाद आरफ़ी
  • अब्दुल वहाब सुख़न अब्दुल वहाब सुख़न
  • सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम
  • महशर इनायती महशर इनायती
  • मुनव्वर ख़ान ग़ाफ़िल मुनव्वर ख़ान ग़ाफ़िल
  • ताहिर फ़राज़ ताहिर फ़राज़
  • जावेद नसीमी जावेद नसीमी