Tabish Mehdi's Photo'

ताबिश मेहदी

1951 | दिल्ली, भारत

नैतिक मूल्यों पर ज़ोर देने वाले लोकप्रिय शायर

नैतिक मूल्यों पर ज़ोर देने वाले लोकप्रिय शायर

ग़ज़ल 5

 

शेर 9

तकोगे राह सहारों की तुम मियाँ कब तक

क़दम उठाओ कि तक़दीर इंतिज़ार में है

  • शेयर कीजिए

अजनबी रास्तों पर भटकते रहे

आरज़ूओं का इक क़ाफ़िला और मैं

अगर फूलों की ख़्वाहिश है तो सुन लो

किसी की राह में काँटे रखना

ये माना वो शजर सूखा बहुत है

मगर उस में अभी साया बहुत है

पड़ोसी के मकाँ में छत नहीं है

मकाँ अपने बहुत ऊँचे रखना

लेख 1

 

पुस्तकें 17

Abul Mujahid Zahid : Fikr Aur Fan

 

2003

Ghazal Nama

 

2011

मुश्क-ए-ग़ज़ालाँ

 

2014

शफ़ीक़ जौनपुरी: एक मुताला

 

2002

Subh-e-Sadiq

 

2008

Tabeer

 

1989

तन्क़ीद-ओ-तरसील

तन्क़ीदी व तहक़ीक़ी मज़ामीम

2011

Tuba

 

2011

उर्दू तंक़ीद का सफ़र

जामिया मिल्लिया के तनाज़ुर में

2004

उर्दू तन्क़ीद का सफ़र

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के तनाज़ुर में

1999

"दिल्ली" के और शायर

  • मिर्ज़ा ग़ालिब मिर्ज़ा ग़ालिब
  • शाह नसीर शाह नसीर
  • हसरत मोहानी हसरत मोहानी
  • दाग़ देहलवी दाग़ देहलवी
  • राजेन्द्र मनचंदा बानी राजेन्द्र मनचंदा बानी
  • आबरू शाह मुबारक आबरू शाह मुबारक
  • ख़्वाजा मीर दर्द ख़्वाजा मीर दर्द
  • मोमिन ख़ाँ मोमिन मोमिन ख़ाँ मोमिन
  • शेख़ इब्राहीम ज़ौक़ शेख़ इब्राहीम ज़ौक़
  • नसीम देहलवी नसीम देहलवी