Zameer Atraulvi's Photo'

ज़मीर अतरौलवी

1959 | अलीगढ़, भारत

ग़ज़ल 6

शेर 6

हज़ारों ज़ुल्म हों मज़लूम पर तो चुप रहे दुनिया

अगर मज़लूम कुछ बोले तो दहशत-गर्द कहती है

  • शेयर कीजिए

ग़रीबी नाम है जिस का अज़ाब-ए-जान होती है

मगर दौलत की कसरत मोहलिक-ए-ईमान होती है

  • शेयर कीजिए

कोई भूका जो फ़र्त-ए-ज़ोफ़ से कुछ लड़खड़ा जाए

तो दुनिया तंज़ कसती है उसे मद-मस्त कहती है

  • शेयर कीजिए

"अलीगढ़" के और शायर

  • नसीम देहलवी नसीम देहलवी
  • हकीम आग़ा जान ऐश हकीम आग़ा जान ऐश
  • आर पी शोख़ आर पी शोख़
  • हीरा लाल फ़लक देहलवी हीरा लाल फ़लक देहलवी
  • मुश्ताक़ नक़वी मुश्ताक़ नक़वी
  • माहिर अब्दुल हई माहिर अब्दुल हई
  • सौरभ शेखर सौरभ शेखर
  • अजीत सिंह हसरत अजीत सिंह हसरत
  • शहनाज़ नबी शहनाज़ नबी
  • रख़शां हाशमी रख़शां हाशमी