Saif Zulfi's Photo'

सैफ़ ज़ुल्फ़ी

1934 - 1991 | लाहौर, पाकिस्तान

ग़ज़ल 14

शेर 3

चिंगारियाँ डाल मिरे दिल के घाव में

मैं ख़ुद ही जल रहा हूँ ग़मों के अलाव में

  • शेयर कीजिए

काग़ज़ पे उगल रहा है नफ़रत

कम-ज़र्फ़ अदीब हो गया है

एहसास में शदीद तलातुम के बावजूद

चुप हूँ मुझे सुकून मयस्सर हो जिस तरह

 

"लाहौर" के और शायर

  • मोहम्मद हनीफ़ रामे मोहम्मद हनीफ़ रामे
  • मुज़फ़्फ़र वारसी मुज़फ़्फ़र वारसी
  • जावेद शाहीन जावेद शाहीन
  • इक़बाल साजिद इक़बाल साजिद
  • साग़र सिद्दीक़ी साग़र सिद्दीक़ी
  • मुनीर सैफ़ी मुनीर सैफ़ी
  • ए जी जोश ए जी जोश
  • तबस्सुम काश्मीरी तबस्सुम काश्मीरी
  • शफ़ीक़ सलीमी शफ़ीक़ सलीमी
  • जीलानी कामरान जीलानी कामरान