Saqi Amrohvi's Photo'

साक़ी अमरोहवी

कराची, पाकिस्तान

ग़ज़ल 6

शेर 8

ज़िंदगी भर मुझे इस बात की हसरत ही रही

दिन गुज़ारूँ तो कोई रात सुहानी आए

तू नहीं तो तिरा ख़याल सही

कोई तो हम-ख़याल है मेरा

मुझ को क्या क्या दुख मिले 'साक़ी'

मेरे अपनों की मेहरबानी से

वीडियो 6

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

साक़ी अमरोहवी

At a mushaira

साक़ी अमरोहवी

Mushaira Saqi Amrohi Ghazal HallaGulla Com Part 2

साक़ी अमरोहवी

ख़ुदा ने क्यूँ दिल-ए-दर्द-आश्ना दिया है मुझे

साक़ी अमरोहवी

मंज़िलें लाख कठिन आएँ गुज़र जाऊँगा

साक़ी अमरोहवी

सामने जब कोई भरपूर जवानी आए

साक़ी अमरोहवी

संबंधित शायर

  • अली सरदार जाफ़री अली सरदार जाफ़री समकालीन
  • रईस अमरोहवी रईस अमरोहवी समकालीन

"कराची" के और शायर

  • सज्जाद बाक़र रिज़वी सज्जाद बाक़र रिज़वी
  • अज़ीम हैदर सय्यद अज़ीम हैदर सय्यद
  • तौक़ीर तक़ी तौक़ीर तक़ी
  • जावेद सबा जावेद सबा
  • गुलनार आफ़रीन गुलनार आफ़रीन
  • नैना आदिल नैना आदिल
  • सलमान सरवत सलमान सरवत
  • कामी शाह कामी शाह
  • हुमैरा राहत हुमैरा राहत
  • मंज़र अय्यूबी मंज़र अय्यूबी