Tabish Dehlvi's Photo'

ताबिश देहलवी

1911 - 2004 | कराची, पाकिस्तान

ग़ज़ल 22

शेर 5

शाहों की बंदगी में सर भी नहीं झुकाया

तेरे लिए सरापा आदाब हो गए हम

  • शेयर कीजिए

छोटी पड़ती है अना की चादर

पाँव ढकता हूँ तो सर खुलता है

  • शेयर कीजिए

आईना जब भी रू-ब-रू आया

अपना चेहरा छुपा लिया हम ने

  • शेयर कीजिए

ई-पुस्तक 6

Charagh-e-Sehra

 

1982

ग़ुबार-ए-अंजुम

 

1984

Hazrat Mahboob-e-Ilahi Ka Paigham

 

1986

Neem Roz

 

1988

Taab-e-Ghazal

 

 

Taqdees

 

1985

 

वीडियो 5

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

ताबिश देहलवी

ताबिश देहलवी

किसी मिस्कीन का घर खुलता है

ताबिश देहलवी

मंज़िलों को नज़र में रक्खा है

ताबिश देहलवी

सब ने मुझ ही को दर-ब-दर देखा

ताबिश देहलवी

संबंधित शायर

  • रसा चुग़ताई रसा चुग़ताई समकालीन
  • अली सरदार जाफ़री अली सरदार जाफ़री समकालीन
  • रईस अमरोहवी रईस अमरोहवी समकालीन
  • ख़ुमार बाराबंकवी ख़ुमार बाराबंकवी समकालीन
  • एहसान दानिश एहसान दानिश समकालीन

"कराची" के और शायर

  • साबिर वसीम साबिर वसीम
  • कौसर  नियाज़ी कौसर नियाज़ी
  • अदीब सहारनपुरी अदीब सहारनपुरी
  • इशरत रूमानी इशरत रूमानी
  • सिराज मुनीर सिराज मुनीर
  • सिराजुद्दीन ज़फ़र सिराजुद्दीन ज़फ़र
  • इशरत रहमानी इशरत रहमानी
  • इक़बाल अज़ीम इक़बाल अज़ीम
  • सबा अकबराबादी सबा अकबराबादी
  • रईस अमरोहवी रईस अमरोहवी