Mohammad Hasan Askari's Photo'

Mohammad Hasan Askari

1919 - 1978 | Karachi, Pakistan

A prominent critic, translator and short story writer who made a mark for his critical views; he introduced Western thought and influenced the Urdu critical scenario. He worked on the reconstruction of Islamic thought during the fag end of his career.

A prominent critic, translator and short story writer who made a mark for his critical views; he introduced Western thought and influenced the Urdu critical scenario. He worked on the reconstruction of Islamic thought during the fag end of his career.

Mohammad Hasan Askari

Article 23

Short story 4

 

Quote 42

फ़सादाद के मुतअ'ल्लिक़ जितना भी लिखा गया है उसमें अगर कोई चीज़ इंसानी दस्तावेज़ कहलाने की मुस्तहिक़ है तो मंटो के अफ़साने हैं।

  • Share this

मुहावरे सिर्फ़ ख़ूबसूरत फ़िक़रे नहीं, ये तो इज्तिमाई तजरबे के टुकड़े हैं, जिनमें समाज की पूरी शख़्सियत बसती है।

  • Share this

नेक जज़्बात से सिर्फ़ बुरा अदब पैदा हो सकता है।

  • Share this

आर्ट बे-नफ़्सेही ज़िंदगी की जुस्तजू है।

  • Share this

हम कितने और किस क़िस्म के अल्फ़ाज़ पर क़ाबू हासिल कर सकते हैं, इसका इंहिसार इस बात पर है कि हमें ज़िंदगी से रब्त कितना है।

  • Share this

BOOKS 103

More Authors From "Karachi"

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

Speak Now