noImage

फ़िदवी लाहौरी

1729 - 1780 | लाहौर, पाकिस्तान

शेर 1

चल साथ कि हसरत दिल-ए-मरहूम से निकले

आशिक़ का जनाज़ा है ज़रा धूम से निकले

  • शेयर कीजिए
 

"लाहौर" के और शायर

  • फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ फ़ैज़ अहमद फ़ैज़
  • अल्लामा इक़बाल अल्लामा इक़बाल
  • शहज़ाद अहमद शहज़ाद अहमद
  • मुनीर नियाज़ी मुनीर नियाज़ी
  • हफ़ीज़ जालंधरी हफ़ीज़ जालंधरी
  • नासिर काज़मी नासिर काज़मी
  • हबीब जालिब हबीब जालिब
  • वसी शाह वसी शाह
  • सूफ़ी तबस्सुम सूफ़ी तबस्सुम
  • नबील अहमद नबील नबील अहमद नबील