Ummeed Fazli's Photo'

उम्मीद फ़ाज़ली

1923 - 2005 | कराची, पाकिस्तान

कराची के लोकप्रिय उर्दू शायर और प्रसिद्ध शायर निदा फ़ाज़ली के भाई

कराची के लोकप्रिय उर्दू शायर और प्रसिद्ध शायर निदा फ़ाज़ली के भाई

उम्मीद फ़ाज़ली

ग़ज़ल 18

शेर 15

चमन में रखते हैं काँटे भी इक मक़ाम दोस्त

फ़क़त गुलों से ही गुलशन की आबरू तो नहीं

ये सर्द रात ये आवारगी ये नींद का बोझ

हम अपने शहर में होते तो घर गए होते

  • शेयर कीजिए

जाने किस मोड़ पे ले आई हमें तेरी तलब

सर पे सूरज भी नहीं राह में साया भी नहीं

आसमानों से फ़रिश्ते जो उतारे जाएँ

वो भी इस दौर में सच बोलें तो मारे जाएँ

  • शेयर कीजिए

गर क़यामत ये नहीं है तो क़यामत क्या है

शहर जलता रहा और लोग घर से निकले

पुस्तकें 1

Dariya Aakhir Dariya Hai

 

1979

 

चित्र शायरी 2

आसमानों से फ़रिश्ते जो उतारे जाएँ वो भी इस दौर में सच बोलें तो मारे जाएँ

ये सर्द रात ये आवारगी ये नींद का बोझ हम अपने शहर में होते तो घर गए होते

 

वीडियो 4

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

उम्मीद फ़ाज़ली

उम्मीद फ़ाज़ली

At a mushaira

उम्मीद फ़ाज़ली

जाने ये कैसा ज़हर दिलों में उतर गया

उम्मीद फ़ाज़ली

संबंधित शायर

  • इब्न-ए-सफ़ी इब्न-ए-सफ़ी समकालीन
  • निदा फ़ाज़ली निदा फ़ाज़ली भाई
  • अनवर ख़लील अनवर ख़लील समकालीन
  • नूह नारवी नूह नारवी गुरु

"कराची" के और शायर

  • ज़ीशान साहिल ज़ीशान साहिल
  • सीमाब अकबराबादी सीमाब अकबराबादी
  • सज्जाद बाक़र रिज़वी सज्जाद बाक़र रिज़वी
  • सलीम कौसर सलीम कौसर
  • अनवर शऊर अनवर शऊर
  • क़मर जलालवी क़मर जलालवी
  • अज़रा अब्बास अज़रा अब्बास
  • उबैदुल्लाह अलीम उबैदुल्लाह अलीम
  • जमाल एहसानी जमाल एहसानी
  • ज़ेहरा निगाह ज़ेहरा निगाह