Chiragh Hasan Hasrat's Photo'

चराग़ हसन हसरत

1904 - 1955 | लाहौर, पाकिस्तान

शायर एवं पत्रकार, हास्य लेखों के लिए लोकप्रिय

शायर एवं पत्रकार, हास्य लेखों के लिए लोकप्रिय

ग़ज़ल 7

शेर 9

ग़ैरों से कहा तुम ने ग़ैरों से सुना तुम ने

कुछ हम से कहा होता कुछ हम से सुना होता

इक इश्क़ का ग़म आफ़त और उस पे ये दिल आफ़त

या ग़म दिया होता या दिल दिया होता

उम्मीद तो बंध जाती तस्कीन तो हो जाती

वा'दा वफ़ा करते वा'दा तो किया होता

  • शेयर कीजिए

रेखाचित्र 1

 

लतीफ़े 3

 

पुस्तकें 8

Artagral

 

 

चराग़ हसन हसरत

अहवाल-ओ-आसार

2003

Hasrat Kaashmiri

 

 

Iqbal Nama

 

1940

कशमीर

 

1948

मज़ामीन

 

 

क़ाएद-ए-आज़म

 

1976

सरगुज़िशत-ए-इस्लाम

खण्ड-004

 

 

वीडियो 5

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
आओ हुस्न-ए-यार की बातें करें

नसीम बेगम

या-रब ग़म-ए-हिज्राँ में इतना तो किया होता

फ़रीदा ख़ानम

या-रब ग़म-ए-हिज्राँ में इतना तो किया होता

फ़रीदा ख़ानम

"लाहौर" के और शायर

  • मोहम्मद हनीफ़ रामे मोहम्मद हनीफ़ रामे
  • सय्यद आबिद अली आबिद सय्यद आबिद अली आबिद
  • मोहम्मद दीन तासीर मोहम्मद दीन तासीर
  • हरी चंद अख़्तर हरी चंद अख़्तर
  • सूफ़ी तबस्सुम सूफ़ी तबस्सुम
  • हाजी लक़ लक़ हाजी लक़ लक़
  • ताजवर नजीबाबादी ताजवर नजीबाबादी
  • ज़हीर काश्मीरी ज़हीर काश्मीरी
  • अंजुम रूमानी अंजुम रूमानी
  • सैफ़ुद्दीन सैफ़ सैफ़ुद्दीन सैफ़