Jameel Mazhari's Photo'

जमील मज़हरी

1904 - 1979 | कोलकाता, भारत

प्रमुख पूर्वाधुनिक शायर, अपने अपारम्परिक विचारों के लिए विख्यात

प्रमुख पूर्वाधुनिक शायर, अपने अपारम्परिक विचारों के लिए विख्यात

ग़ज़ल 36

नज़्म 7

शेर 10

जलाने वाले जलाते ही हैं चराग़ आख़िर

ये क्या कहा कि हवा तेज़ है ज़माने की

हम मोहब्बत का सबक़ भूल गए

तेरी आँखों ने पढ़ाया क्या है

  • शेयर कीजिए

होने दो चराग़ाँ महलों में क्या हम को अगर दीवाली है

मज़दूर हैं हम मज़दूर हैं हम मज़दूर की दुनिया काली है

  • शेयर कीजिए

मर्सिया 1

 

ई-पुस्तक 20

Allama Jameel Mazhari: Hayat Aur Nasri Takhliqat Ka Mutala

 

1990

Fariyad Jawab-e-Fariyad

 

 

फ़िक्र-ए-जमील

 

1985

IntiKhab-e-Kalam-e-Jameel Mazhari

 

2011

Irfan-e-Jameel

 

1979

Jameel Mazhari

 

1964

Jameel Mazhari Bahaisiyat-e-Marsiya Nigar

 

2011

Jameel Mazhari Ka Shahkaar Novelt

Farz Ki Qurbangah Par

1995

Jameel Mazhari Ki Masnavi Aab-o-Sarab

 

1989

Jameel Mazhari: Kuchh Yadein Kuchh Batein

 

2000

ऑडियो 11

उलझी थी ज़ुल्फ़ उस ने सँवारा सँवर गई

कब तक निबाहें ऐसे ग़लत आदमी से हम

कहो न ये कि मोहब्बत है तीरगी से मुझे

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • बिस्मिल सईदी बिस्मिल सईदी समकालीन
  • एहसान दरबंगावी एहसान दरबंगावी शिष्य
  • अमीर रज़ा मज़हरी अमीर रज़ा मज़हरी भाई
  • वहशत रज़ा अली कलकत्वी वहशत रज़ा अली कलकत्वी गुरु
  • अब्दुल हमीद अदम अब्दुल हमीद अदम समकालीन
  • इज्तिबा रिज़वी इज्तिबा रिज़वी समकालीन
  • अख़्तर शीरानी अख़्तर शीरानी समकालीन
  • परवेज़ शाहिदी परवेज़ शाहिदी समकालीन
  • अब्बास अली ख़ान बेखुद अब्बास अली ख़ान बेखुद समकालीन

"कोलकाता" के और शायर

  • अबुल हसनात हक़्क़ी अबुल हसनात हक़्क़ी
  • असलम महमूद असलम महमूद
  • ख़ुर्शीद तलब ख़ुर्शीद तलब
  • अख़्तर पयामी अख़्तर पयामी
  • वाली आसी वाली आसी
  • अहमद शनास अहमद शनास
  • अंजुम लुधियानवी अंजुम लुधियानवी
  • फ़रहान सालिम फ़रहान सालिम
  • असरार जामई असरार जामई
  • नज़ीर बाक़री नज़ीर बाक़री